देश-दुनिया

डमरू, त्रिशूल और बेलपत्र… ऐसा होगा वाराणसी का अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम, पीएम मोदी 23 को करेंगे शिलान्यास

शिव के त्रिशूल पर बसी विश्व की सांस्कृतिक राजधानी काशी में दुनियां का ऐसा पहला क्रिकेट स्टेडियम बनने जा रहा है जो भगवान शिव को समर्पित है। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम की थीम भगवान शिव और बनारस से जुड़ी होगी। स्टेडियम के गुम्बद को डमरू का स्वरूप दिया गया है।वहीं फ्लड लाइट्स त्रिशूल की तर्ज पर डिजाइन की जाएंगी। प्रवेश द्वार का स्वरूप बेलपत्र के आकार जैसा होगा।

अपने संसदीय क्षेत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जब भी आगमन होता है, तो अनेकों सौगात के साथ काशी की तस्वीर बदलती हुई दिखाई देती है। 23 सितंबर को इस बार भी पीएम मोदी वाराणसी दौरे पर होंगे और इस दौरान तकरीबन 1000 करोड़ से अधिक परियोजनाओं का तोहफा बनारस वालों को फिर से मिलने जा रहा है और उसमें सबसे खास है वाराणसी का गंजारी (राजातालाब) में तकरीबन 325 करोड़ से अधिक रुपए में बनने वाला अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम। यह स्टेडियम दिसंबर 2025 तक बनकर तैयार हो जाएगा। इस स्टेडियम के बनने के बाद वाराणसी में भी इंटरनेशनल मैच का आयोजन हो सकेगा।

बाबा विश्वनाथ की नगरी वाराणसी में बनने वाला अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम की थीम भी भोलेनाथ पर ही है। जो तस्वीरें सामने आई हैं, उसके मुताबिक स्टेडियम का डोम भगवान शिव के डमरू जैसा होगा। स्टेडियम में लगने वाली फ्लड लाइटें भगवान शिव के त्रिशूल की तरह होंगी। इतना ही नहीं, बेलपत्र के समान प्रवेश द्वार होगा। स्टेडियम की छत अर्धचंद्राकार होगी। दर्शकों के बैठने की व्यवस्था सीढ़ियों की तरह होगी। कुल मिलकर इसका वास्तु भगवान शिव पर आधारित होगा। 30.60 एकड़ जमीन पर बनने वाले इस स्टेडियम के निर्माण में 330 करोड़ रुपये की लागत आएगी। स्टेडियम में सात पिच होंगी। यहां 30,000 लोगों के बैठने की व्यवस्था होगी। स्टेडियम को 30 महीने में तैयार कर लिया जाएगा।

शिलान्यास में बड़ी हस्तियां होगी शामिल…
शिलान्यास समारोह में सचिन तेंदुलकर, सुनील गावस्कर, रवि शास्त्री जैसे दिग्गज क्रिकेटर भी उपस्थित रहेंगे। बीसीसीआइ अध्यक्ष रोजर बिन्नी, उपाध्यक्ष राजीव शुक्ल, सचिव जय शाह भी आएंगे। खेल मंत्री अनुराग ठाकुर भी इस अवसर पर वाराणसी आ सकते हैं। स्थानीय क्रिकेटरों व खिलाडि़यों को भी आमंत्रित किया गया है।

You cannot copy content of this page

error: Content is protected !!