देश-दुनिया

तेजी से फैल रहा Eye Flu, इन बातों का रखें ध्यान, ये है बचाव और लक्षण

Eye Flu : लगातार होती बारिश की वजह से बढ़ते जलस्तर के देशभर में गंभीर हालात बना दिए हैं। एक तरफ जहां जल भराव की वजह से बाढ़ के हालात बन गए हैं तो वहीं दूसरी तरफ इसके कारण आई फ्यू का खतरा भी बढ़ रहा है। बीते कुछ समय से लगातार आई फ्यू के मामले सामने आ रहे हैं।
जानिए क्या है आई फ्यू …
आई फ्यू यानी कंजंक्टिवाइटिस को “पिंक आई” के रूप में भी जाना जाता है। यह एक संक्रमण है, जो कंजंक्टिवा की सूजन का कारण बनता है। कंजंक्टिवा क्लियर लेयर होती है, जो आंख के सफेद भाग और पलकों की आंतरिक परत को कवर करती है। मानसून के दौरान कम तापमान और हाई ह्यूमिडिटी के कारण लोग बैक्टीरिया, वायरस और एलर्जी के संपर्क में आते हैं, जो एलर्जिक रिएक्शन्स और आई इंफेक्शन जैसे कंजंक्टिवाइटिस का कारण बनते हैं।


आइए जानते हैं इसके लक्षण और बचाव के तरीके…


वायरल कंजक्टिवाइटिस के लक्षण :

  • आंखें लाल, सूजी और चढ़ी हुईं
  • आंखों से पानी या चिपचिपा पदार्थ निकलना
  • आंखों में जलन या खुजली महसूस होना
  • प्रकाश के प्रति संवेदनशीलता
  • सुबह पलकों पर पपड़ी जमना

बचाव के लिए करें ये उपाय :

  • अपनी आंखों पर ठंडा सेक लगाना
  • कृत्रिम आंसुओं का प्रयोग करना
  • अपनी आंखें मलने से बचें
  • रोग की स्थिति में आंखों के मेकअप से बचें
  • आंखों के संपर्क में आने वाली किसी भी सतह को साफ और कीटाणु रहित करें
  • दूसरों के साथ तौलिया, वाश क्लाथ या आंखों का मेकअप साझा करने से बचें
  • कांटेक्ट लेंस बाहर निकालें और निर्माता के निर्देशों के अनुसार साफ करें।

Disclaimer : लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

You cannot copy content of this page

error: Content is protected !!