देवास

माता टेकरी पर पहुंचे रुद्र महाकाल सेवा समिति के सदस्य, चंद घण्टो में चमका दी गर्भगृह की चांदी

क्षिप्राखबर @ देवास। शारदीय नवरात्र 15 अक्टूबर से आरंभ हो रही है जिसको को लेकर माता टेकरी पर तैयारियां शुरू हो चुकी है। माँ चामुण्डा एवं तुलजा भवानी मंदिर में साफ सफाई के साथ सजावट का कार्य शुरू हो चुका है। वहीं मातारानी के श्रृंगार और पूजन सामग्री की दुकानें भी सजनी शुरू हो चुकी हैं। मातारानी को खुश करने और आशीर्वाद पाने के लिए श्री रुद्र महाकाल सेवा समिति के भक्त इंदौर एवं रतलाम से पहुँचे और मंदिर के गर्भगृह में लगी चांदी को कुछ पलों में चमका दिया।रविवार को रुद्र महाकाल सेवा समिति की टीम माता टेकरी पहुँची यहां पहले बड़ी माता मंदिर फिर छोटी माता मंदिर के गर्भगृह में लगे चांदी के रुद्र यंत्र, छत्र, दरवाजे, त्रिशूल आदि की पॉलिशिंग आयुर्वेदिक पाउडर से की। समिति के संदीप कसेरा ने बताया कि समिति द्वारा देश दुनिया के मंदिरो में निःशुल्क चांदी की पॉलिशिंग का कार्य किया जाता है। टीम द्वारा उज्जैन के महाकाल मंदिर , इंदौर के खजराना गणेश मंदिर , मंदसौर के पशुपतिनाथ महादेव मंदिर में चांदी पॉलिशिंग का कार्य पहले कई बार किया गया है। नवरात्रि पर्व को देखते हुए अब देवास की माता टेकरी पर चांदी की पॉलिशिंग आयुर्वेदिक पाउडर द्वारा की गई है।


आरती व अन्य कारणों से चांदी काली होती, एसिड की सफाई से होता क्षरण इसलिए आयुर्वेदिक पाउडर का प्रयोग करती है समिति…
रुद्र महाकाल सेवा समिति के संदीप कसेरा ने बताया कि चांदी बहुत अधिक सेंसेटिव धातु होती है। मंदिर में हर दिन होने वाली आरती से कालापन निकलता है वह चांदी पर बहुत जल्दी जमता है। इसकी सफाई एसिड से भी की जाती है लेकिन उससे चांदी का क्षरण तेजी से होता है। इस कारण हम जिस पाउडर से सफाई करते हैं उससे चमक तो कम आती है लेकिन चांदी को नुकसान नहीं होता ओरे अधिक समय तक चांदी की चमक बनी रहती है।

You cannot copy content of this page

error: Content is protected !!