मध्यप्रदेश

रक्षाबंधन के पहले बहनों की बल्ले बल्ले, मंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कर दी घोषणाओं की बौछार

कार्यक्रम तो था रक्षाबंधन के चलते लाड़ली बहनाओं के बैंक खातों में 1000 रुपए की जगह 250 रुपए बैंक खातों में ट्रांसफर करने का, मगर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणाओं की बौछार कर दी और लाड़ली बहनाओं सहित महिलाओं की दीवाली मनवा दी। सरकारी नौकरियों में महिलाओं का आरक्षण बढ़ाने सहित फ्री पढ़ाई जैसी कई घोषणाएं सीएम ने कर डालीं। उन्होंने रक्षाबंधन के लिए लाड़ली बहनाओं के बैंक खातों में 250 रुपए तो ट्रासंफर किए ही, साथ ही अक्टूबर से नियमित रूप से 1250 रुपए देने की बात भी कही। और हॉं! जाते- जाते वे यह कहना नहीं भूले कि बहना मैंने तो कर दिया अब तुम भी देना साथ मेरा….

एक नजर सीएम शिवराज की रक्षाबंधन स्पेशल घोषणाओं पर

  • शिक्षक भर्ती में 50 फीसदी के साथ अब हर विभाग में महिलाओं को 35 फीसदी नौकरियां मिलेंगी।
  • पुलिस भर्ती में भी महिलाओं को 30 की जगह 35 फीसदी रिजर्वेशन। महिलाओं की सुनवाई ठीक से हो, इसलिए थानों में डेस्क पर ज्यादा से ज्यादा महिला पुलिसकर्मी नियुक्त होंगी।
  • नॉमिनेटेड पोस्ट पर भी 35% महिलाओं की नियुक्ति की जाएगी।
  • नगरीय निकायों में भी एल्डरमैन के साथ एल्डरवुमेंन भी होगी
  • सावन में 450 रुपए में मिलेगा गैस सिलेंडर। यह रियायत आगे भी रह सकती है।
  • रक्षा बंधन मनाने लाड़ली बहनाओं के बैंक खातों में 1000 रुपए की जगह 250 रुपए बैंक खातों में ट्रांसफर किए।
  • अक्टूबर से लाड़ली बहनाओं के बैंक खातों में 1250 रुपए ट्रांसफर होंगे।
  • लाड़ली बहनों की बेटियों बेटियों की पढ़ाई होगी निशुल्क, बेटियों की फीस मामा भरवाएगा
  • महिलाएं जहां नहीं चाहेंगी तो वहां अगले साल से नहीं खुल सकेंगी शराब की दुकानें
  • गरीब बहनों के बड़े हुए बिजली के बिलों की वसूली नहीं होगी, सितंबर में बड़ा बिजली बिल शून्य हो जाएगा। गरीब बहनों का बिजली बिल केवल 100 रुपए हो जाएगा।
  • जिन महिलाओं के पास जिनके पास रहने को जमीन नहीं, उनको सरकार प्लाट देगी। जिनके नाम पीएम आवास योजना में रह गए हैं, उनको सीएम आवास योजना में शामिल किया जाएगा।
  • महिलाओं के नाम पर संपत्ति की रजिस्ट्री पर लगेगा सिर्फ 1 फीसदी शुल्क
  • सभी लाड़ली बहनाओं को आजीविका मिशन में शामिल किया जाएगा। सिर्फ 2 फीसदी ब्याज पर मिलेगा लोन

You cannot copy content of this page

error: Content is protected !!