क्षिप्रा

शिप्रा में पल पल बिगड़ती यातायात व्यवस्था, प्रशासन नही दे रहा ध्यान

क्षिप्राखबर @ क्षिप्रा। क्षिप्रा से सांवेर जाने वाले शुरुआती मार्ग पर जाम लगना अब आम बात हो गई है। पल- पल लगते जाम के कारण लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। बरोदा ओर साँवेर से आने वाले भारी वाहनों ने जाम की समस्या बढ़ा दी है। सुबह हो या शाम इस चौराहे पर पल पल जाम लगा रहता है। जाम खुलवाने के लिए स्थानीय लोगो को मशक्कत करनी पड़ती है। वही इसके लिए अतिक्रमणकारी भी कम जिम्मेदार नहीं हैं कई दुकानदार अपना ठेला ब्रिज के नीचे ही लगाकर जगह घेर लेते है। सूत्रों के मुताबिक जानकारी सामने आ रही कि कई अतिक्रमणकारी प्रशाषन की साठ गाठ से बीच रास्तो में दुकान लगा रहे है। इस काऱण आला अधिकारी कोई कार्यवाही करने से बच रहे है। अधिकतर शाम के समय दो पहिया, चार पहिया व बड़े वाहनों के ज्यादा आवागमन से आम लोगों को रोज घंटों जाम का सामना करना पड़ता है। बुधवार शाम 5 बजे लगे महाजाम को खुलवाने के लिए स्थानीय लोगो ने कड़ी मशक्कत कर जाम खुलवाया। इसके बाद कुछ पुलिसकर्मी भी पहुँचे तब स्तिथि बेहतर हुई।गौरतलब है कि क्षिप्रा-साँवेर मार्ग पर क्षिप्रा में बने एनएचआइ अंडरब्रिज के नीचे बड़े वाहनों के कारण हमेशा जाम की स्थिति उत्पन्न हो रही है। यहां बड़े वाहन आमने सामने आ जाने से पलभर में ट्रैफिक व्यवस्था बिगड़ने से नही चूकती। रोड पर खड़े अनियंत्रित वाहन यहां की यातायात व्यवस्था बिगाड़ने के काम को करने में लगे हुए है। बरोदा में रांग साईड आने वाले बड़े वाहनों को रोकने के लिए हाइवे पर डिवाइडर लगा दिया है। इस कारण अब बड़े वाहन बरोदा से क्षिप्रा होते हुए इंदौर-देवास की तरफ जा रहे है। साँवेर तरफ से भी बड़े वाहनो का क्षिप्रा में प्रवेश होते ही पल पल जाम की स्तिथि बनती जा रही है। बताया जाता है कि प्रशाषन की साठ-गांठ से दुकानदार इन व्यस्ततम मार्ग पर दुकान लगा रहे। इस कारण पंचायत भी अतिक्रमण हटाने से दूर भाग रही है। बड़े-बड़े डंफर के परिचलन से सबसे जयादा परेशानी होती है। वाहनों का जाम हो जाने से राहगीरों के साथ वाहन चालकों का तू तू, मैं-मै होने का सिलसिला अक्सर दिखाई देता है। जाम की स्थिति में प्रेशन हार्न की आवाज से भी आम जन परेशान होते हैं। बाजार में बार बार लगने वाले जाम से सर्वाधिक परेशान आम नागरिक रहते हैं जो कि बाइक से अथवा पैदल निकलने में भी मुश्किल का सामना करते हैं। इस मामले में सम्बंधित अधिकारियों द्वारा चुप्पी साधी हुई है। स्थानीय लोगो का कहना है कि मुख्य मार्ग पर अतिक्रमण होने से जाम की स्तिथि बनती है।इनका कहना है- 

यदि अभी जाम की स्तिथि बनी है तो क्षिप्रा थाने में जानकारी देकर जाम खुलवाता हु। स्वेच्छा से अतिक्रमण हटाने के लिए दुकानों को नोटीस भेजा जाएगा। अन्यथा हमारे स्तर पर अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही करेंगे। – विकास रघुवंशी (नायब तहसीलदार, ठप्पा शिप्रा)

You cannot copy content of this page

error: Content is protected !!