देश-दुनिया

NHAI पर पेट्रोल से लेकर ये सबकुछ मिलता है निःशुल्क…आईये जानते हैं भारत में टोल प्लाजा के नियम और सुविधाओं के बारे में…

नेशनल हाइवे (NH) के टोल प्लाज़ा के कुछ नियम और कानून होते हैं जिनके बारे में सभी नागरिकों को जानकारी होनी चाहिए। आईये जानते हैं भारत में टोल प्लाजा के नियमों के बारे में…

राष्ट्रीय राजमार्ग पर सफर करते समय टोल भरने पर आपको कई प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध कराई जाती हैं। टोल प्लाजा पर सुविधाएं उपलब्ध होती हैं, इसके साथ ही बीच रास्ते में कहीं परेशानी होने पर टोल प्रबंधन की ओर से निश्शुल्क सुविधाएं उपलब्ध करानी होती हैं।

टोल प्लाजा के कर्मचारियों के दुर्व्यवहार को लेकर मिली शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने टोल प्लाजा संचालकों के लिए ‘आचार संहिता’ बनाते हुए गाइडलाइन जारी की है। इसमें ठेकेदारों के लिए अनिवार्य किया है कि एक समान नीली वर्दी पहनेंगे। रसीद पर सभी जरूरी नंबर होंगे।
=========================
★भारत में टोल टैक्स नियमों में से एक नियम यह है की एक लाइन यानी कतार में भीड़ के समय प्रति लेन वाहनों की संख्या 6 से अधिक नहीं होनी चाहिए।

★टोल प्लाजा में टोल लेन या बूथ की संख्या सुनिश्चित होनी चाहिए और व्यस्त समय के दौरान हर एक वाहन पर 10 सेकंड से अधिक का समय नहीं लगना चाहिए।

★टोल लेन की संख्या में बढ़ोतरी होनी चाहिए यदि किसी टोल प्लाजा में किसी वाहन को 2 मिनट से अधिक समय तक प्रतीक्षा करनी पड़ रही हो।यदि किसी टोल प्लाजा पर किसी वजह से वाहनों को 100 मीटर से अधिक लंबी लाइनों पर इंतजार करना पड़े तो ऐसी स्थिति में सभी वाहनों को बिना टोल दिए जाने की अनुमति होगी।

★एनएचएआई के अनुसार, हर टोल बूथ से 100 मीटर के डिस्टेंस पर पीली पट्टी बनी होनी चाहिए।

★टोल प्लाजा के पास शौचालय, पीने के पानी की सुविधा की मुफ्त सुविधा होनी चाहिए ।

★टोल प्लाजा में एंबुलेंस, फायर एंबुलेंस और टोइंग क्रेन 24 घन्टे उपलब्ध रहनी चाहिए, आपात स्थिति (जैसे कार खराब होने या दुर्घटना) के मामले में टोल से हर तरह की मदत मुफ्त में प्राप्त कर सकते हैं।

★टोल प्लाजा आपको पेट्रोल खत्म होने की स्थिति में पट्रोल और पंचर होने की स्थिति में उसको ठीक करने की भी सुविधा उपलब्ध कराएग।

★आपात सुविधा उपलब्ध कराने का कोई शुल्क नहीं होता है। वाहन खराब होने की स्थिति में उसे टो करके प्लाजा या नजदीकी गैराज तक पहुंचाया जाता है।

★टोल प्लाजा में टोल लेन या बूथ की संख्या सुनिश्चित होनी चाहिए और सभी लेन 24 घण्टे खुली रहनी चाहिए

★कोई भी यात्री 1033 पर काल करके अपने लिए सुविधा की मांग कर सकता है। इस पर फोन करने के बाद उनकी लोकेशन के अनुरूप नजदीकी टोल प्लाजा से व्यवस्था करा दी जाती है। अगर सुविधा उपलब्ध नहीं कराई जाती है तो 1033 पर ही शिकायत दर्ज कराई जकती है।

★एनएचएआई ने रसीद का भी प्रारूप जारी किया है। इसमें आगे और पीछे टोल संबंधी सभी तरह की जानकारी रहेगी। एम्बुलेंस, हेल्पलाइन नंबर, पेट्रोलिंग का नंबर, टोल मैनेजर, डायरेक्टर व अन्य सभी का नंबर भी रसीद में रहेगा। टोल ठेकेदार, टोल की मान्यता, लंबाई आदि की जानकारी भी रसीद में रहेगी।

You cannot copy content of this page

error: Content is protected !!